【Milan Shayari 】| Milan Shayari In Hindi | Quotes in hindi

Milan Shayari - दोस्तों हम इस पोस्ट में आपके लिए ऐसी शायरी लेकर आए हैं  बेहतरीन और चुनिंदा शायरी का संग्रह जो की Milan Shayari In Hindi मिलन शब्द को बहुत ही शानदार तरीके से वर्णित करता है !!

जो मिलन को अच्छी तरह से परिभाषित करती हैं। यदि आप इन फीलिंग्स का अपनी प्रेमिका को दोबारा एहसास दिलाना चाहते हैं तो इन शायरियों से बढ़कर कुछ नहीं हो सकता। 

आप इस मिलन शायरी को अपने हिंदी वाहट्सएप्प स्टेटस के रूप में उपयोग कर सकतें है या आप इस बेहतरीन मिलन हिंदी शायरी को अपने दोस्तों को फेसबुक पर भी भेज सकतें हैं। 


Milan Shayari 

Milan Shayari
आओ दो पल साथ 👫गुजार लो प्यार से
फिर ऐसा मिलन हो न हो💖💗💖

Milan Shayari In Hindi
बड़ी अजीब ‪#‎मुलाकातें‬
होती थी हमारी ...
वो ‪#‎मतलब‬ से मिलते थे ,
औऱ हमें मिलने से #मतलब था

Milan Ki Shayari
Milan Shayari 
सही ना जाए तुझसे दूरी
मिलन बताओ कब होगा
आकाश जमीं सब मिल जायेंगे
मिलन हमारा जब होगा ।
Milne Ki Shayari
देखो फ़लक पर हमारा मिलन हो रहा है कि फिर इक शाम हो चली है.....💓
Milan Couple Shayari
प्रकृति की सुन्दरता
ह्रदय को शांत करती हैं
दिन से रात का यह मिलन
पिय से पिया के प्रेम का...

Milan Shayari In Hindi 

Milan Shayari Image
रूह को रूह में मिलने की तलब थी,
जिस्म को छू कर वो दिल से उतर गया।

Milan Shayari
मिलन की उम्मीद नहीं, फिर भी तेरा इंतजार है..
अब कैसे बताऊं, 'मैं' किस कदर इस दिल में तेरे लिए प्यार है..!!

Milan Shayari
Milan Shayari In Hindi 
सावन का महिना, बारिश की वो बूँदे याद आती है हरपल वो वादें ,
वो मिलने की उम्मीदें..

“अधूरे मिलन की आस हैं जिंदगी,  सुख – दुःख का एहसास हैं जिंदगी,  फुरसत मिले तो ख्वाबो में आया करो,  आप के बिना बड़ी उदास हैं जिंदगी.”
“अधूरे मिलन की आस हैं जिंदगी,
सुख – दुःख का एहसास हैं जिंदगी,
फुरसत मिले तो ख्वाबो में आया करो,
आप के बिना बड़ी उदास हैं जिंदगी.”

ए हवा तूने फिर से मिलन की तड़प जगा दी  तू क्यों छूकर आई उसके बदन को
ए हवा तूने फिर से मिलन की तड़प जगा दी
तू क्यों छूकर आई उसके बदन को

Milan Shayari Image

तेरे गुलाबी लव जब मेरे लबों को छू जाए   मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाए
तेरे गुलाबी लव जब मेरे लबों को छू जाए
मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाए

मैं विरह की वेदना लिखूं या मिलन की झंकार  तू ही बता कैसे लिखूं थोड़े शब्दों में सारा प्यार
मैं विरह की वेदना लिखूं या मिलन की झंकार
तू ही बता कैसे लिखूं थोड़े शब्दों में सारा प्यार

बड़े बेगैरत है ये मेरे नैना,   तेरे मिलने की आस में भी,   तेरे ना मिलने के प्यास में भी,   बहाते रहते है अश्रुधार,   बिना मेरी इजाज़त के।
Milan Ki Shayari 
बड़े बेगैरत है ये मेरे नैना,
तेरे मिलने की आस में भी,
तेरे ना मिलने के प्यास में भी,
बहाते रहते है अश्रुधार,
बिना मेरी इजाज़त के।

जो तेरे गुलाबी लब मेरे लबों को छू जायें,  मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाये,
जो तेरे गुलाबी लब मेरे लबों को छू जायें,
मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाये,

Milne Ki Shayari

तुम्हारे दिल के करीब से जो BYEPASS गुजरती है  बस उसी के टोल नाके पर खड़ा हूँ कई दिनों से  बहाने ढूँढ रहा हूँ तुमसे मिलने के
Milne Ki Shayari
तुम्हारे दिल के करीब से जो BYEPASS गुजरती है
बस उसी के टोल नाके पर खड़ा हूँ कई दिनों से
बहाने ढूँढ रहा हूँ तुमसे मिलने के

दिन रात का यह मिलन  सृष्टि की सुंदर रचना हैं  अप्रतीम सा दीखता यह सौन्दर्य  शाम का अद्वितीय नजारा हैं...
दिन रात का यह मिलन
सृष्टि की सुंदर रचना हैं
अप्रतीम सा दीखता यह सौन्दर्य
शाम का अद्वितीय नजारा हैं...

“दो दिलो की मोहब्बत से जलते हैं लोग;  तरह-तरह की बातें तो करते हैं लोग;  जब चाँद और सूरज का होता है खुलकर मिलन;  तो उसे भी “सूर्य ग्रहण” तक कहते हैं लोग!…..”
“दो दिलो की मोहब्बत से जलते हैं लोग;
तरह-तरह की बातें तो करते हैं लोग;
जब चाँद और सूरज का होता है खुलकर मिलन;
तो उसे भी “सूर्य ग्रहण” तक कहते हैं लोग!…..”

अधूरे मिलान की आस है जिंदगी   सुख -दुःख का एहसास है जिंदगी   फुर्सत मिले तो ख्वाबों में आया करो   आपको बिना बड़ी उदास है जिंदगी
Milan Couple Shayari 
अधूरे मिलान की आस है जिंदगी
सुख -दुःख का एहसास है जिंदगी
फुर्सत मिले तो ख्वाबों में आया करो
आपको बिना बड़ी उदास है जिंदगी

Milan Couple Shayari 

चलो खो जाते है फिर से उन सपनो में   जहां तेरा और मेरा मिलान होया
चलो खो जाते है फिर से उन सपनो में
जहां तेरा और मेरा मिलान होया

जिस्मो का मिलान हो,   यही दिल ने नहीं चाहा,  फिर भी तुम्हे बेवफा लगता हूँ,  तो हां में बेवफा हूँ  में।
जिस्मो का मिलान हो,
यही दिल ने नहीं चाहा,
फिर भी तुम्हे बेवफा लगता हूँ,
तो हां में बेवफा हूँ  में।

में विरहा की वेदना लिखुँ,   या मिलन की झंकार  तू ही बता कैसे लिखुँ ,  थोड़े शब्दो में सारा प्यार।
Milan Shayari Image
में विरहा की वेदना लिखुँ,
या मिलन की झंकार
तू ही बता कैसे लिखुँ ,
थोड़े शब्दो में सारा प्यार।

तलब गहरी है आरजू-ए-मिलन की...
यही लफ्जो में आ जाया करो तुम....

शायद वो ऋतु तेरे मेरे मिलन की न थी वरना धूप में छांव किसे अच्छी नहीं लगती।
शायद वो ऋतु तेरे मेरे मिलन की न थी वरना धूप में छांव किसे अच्छी नहीं लगती।

तो आपको हमारे Milan Shayari कैसे लगे। अगर यह कोट्स आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। आपको इन Milne Ki Shayari को पढ़कर काफी अच्छा महसूस हुआ होगा।  आगे भी ऐसी  कोट्स के लिए हमे follow करे हमारे instagram पर और quotes को share करे। धन्यवाद। 
Previous Post
Next Post
Related Posts